Proxy Server Kya Hai? – What is Proxy Server In Hindi

0
22
proxy server kya hai
proxy server kya hai

Proxy Server Kya Hai? – What is Proxy Server In Hindi : – Hello Friends! आज इस आर्टिकल में हम आपको Proxy Server के बारे में बताने वाले है। Proxy server क्या होता है? , इसका Use क्यों किया जाता है? , ये कैसे काम करता है? , Proxy Server के कितने Types होते है?

ये सब हम इस एक आर्टिकल में जानेंगे तो चलिए जानते है। Proxy Server Kya Hai?

Proxy Server क्या है ? – What is Proxy Server in Hindi?

क्या आपने कभी प्रॉक्सी वोटिंग का नाम सुना है , अगर नहीं सुना है तो आज हम आपको बताते है जैसे कभी वोटिंग के समय अगर कोई Person Available नहीं होता तो वो अपना वोट परिवार के किसी दूसरे सदस्य के जरिये वोट डलवा सकता है।

जैसा की हम Website को कभी भी कहीं भी अपने System पर देख सकते हैं , लेकिन Website के Server से Connect होने वाला System कुछ और ही है , जिसको Proxy Server बोलते है।

Proxy Server हमारे और Internet के बीच में एक Mediator या फिर आप एक ब्रिज समझ लीजिये उसकी तरह काम करता है। ये User को Internet से Connect करने का काम करता है। Proxy Server आपके और Internet के बीच में एक Representative की तरह काम करता है।

Proxy Server का मतलब है की आपके सामने चीज़ों को Represent करना और और एक Gateway यानि की Main Gate की तरह काम करना है। इसका काम Client की तरफ से Internet पर Request करना है और फिर उसके बाद Internet Client को Information Send करना है।

प्रॉक्सी सर्वर कैसे काम करता है? (How Proxy Server works in Hindi?)

जैसा की हम सभी जानते है Internet पर जुड़े हर Computers के अपने अलग अलग यानि की Unique IP address होते है। Unique IP Address उन सभी Computers की Identification बताने का काम करते है। इन आईपी एड्रेस के Through ही ये पता लगाया जा सकता है की Computer कौन सी Location पर है।

Proxy server का भी एक Unique IP address होता है ये भी एक तरह का computer है। मान लीजिये आपको कोई Website ये कोई Resource चाहिए तो उसके लिए सबसे पहले आप अपने Computer यानि की proxy server को request (http, https,ftp ) Send करते है।

जैसे ही प्रॉक्सी सर्वर को Request मिल जाती है वो उस Request को Destination Server तक पहुंचा देता है , जिस जगह पर पर वो Website या Resource स्टोर किया हुआ है।

प्रॉक्सी सर्वर कितने प्रकार के होते हैं? (Types of Proxy Server in Hindi)

  • Forward Proxy
  • Open Proxy
  • Reverse Proxy

Forward Proxy

ये Server Client के Through दी गयी Request को target server में forward करने का काम करता है। जिससे की Client और Server के बीच Communication हो पाए। Proxy Sever Client को ये बताता है की उसे Resource कौन सा चाहिए , और उसके बाद Client के Through जो Request की गयी है, उसे Target Server तक लेके जाता है , जहाँ पर वो Resource Available होता है।

Open Proxy

Open Proxy Publicly Available होता है क्योँकि Open Proxy भी एक तरीके से Forwarding Proxy की तरह काम करता है। इससे कोई भी Internet User अपने System की ip को Hide करके Anonymous Browsing कर सकता है। इसके कुछ Types निचे दिए गए है : –

Anonymous Proxy

ये Client की IP को Hide करने का काम करता है , जिससे की टारगेट सर्वर को Client की Location के बारे में न पता चले। पर इससे proxy की identiy Target Server को पता चल जाती है।

Distorting Proxy

ये website को अपनी identity तो Easily बता देता है पर Client को गलत IP address पहुँचाता है।

High Anonymity Proxy

ये Server Internet पर आपको आपकी पहचान छुपाने में सबसे ज़्यादा Help करेगा। इस तरह के Server को Track कर पाना इतना आसान नहीं होता है। क्योँकि इस तरह के Server बार बार IP Change करते रहते है और न तो Client की IP pass करते है और न ही वेबसाइट को अपनी identity देते है।

प्रॉक्सी सर्वर का क्या उपयोग है? (Use of Proxy Server in Hindi)

Proxy Server का Use Mostly Security Reason की वजह से किया जाता है , जैसे की अपना IP Address Hide करने के लिए और इसके साथ साथ किसी भी Blocked Website को Access करने के लिए भी इसका बहुत Use किया जाता है।

Security Reason

सबसे बड़ा जो Reason है Proxy Server को Use करने का वो ये है की किसी भी Organization या Company के लिए उसके Server के Hack होने और Data के Loss होने के Chances बने रहते है। Server की Security के मामले में Proxy Server बहुत से Benefits Provide करता है।

प्रॉक्सी सर्वर को Configure करके Client और Server के बीच होने वाले Communication को Encrypt किया जा सकता है , जिससे कोई भी Third Party User उसे Read नहीं कर सकता है। Proxy Server Outside Traffic और आपके सर्वर के बीच एक Extra Security Layer Connect कर देता है।

Block Website को Access करने के लिए

आपने देखा होगा Internet पर बहुत सी ऐसी चीज़े देखने को मिलती है जिन पर कुछ Restrictions लगे होते है जैसे की आपके स्कूल, कॉलेज, या ऑफिस के Computer , इनके अलावा Geographic Location या Country के According कंपनी या सरकार द्वारा भी कई Websites पर Ban लगा दिया जाता है। इस तरह की कुछ Restrictions और Filters को Bypass करने के लिए ही Proxy का Mostly Use किया जाता है।

Internet की Speed को Increase करने के लिए

Proxy Server का Use करके किसी भी Organization के Network Connection और Performance को बढ़ाया जा सकता है।

प्रॉक्सी सर्वर का कैसे उपयोग करें? (How to use Proxy Server in Hindi?)

चलिए अब देखते है की कैसे Proxy Server को अपने System में Connect किया जाता है और उसके लिए क्या क्या करना होगा।

Use Web Based Proxy

इसको Use करने के लिए सबसे पहले आपको Google में “Best Free Online Proxy” लिखकर Search करना है। आपको बहुत सी ऐसे Website मिल जएंगी जो Free में आपको प्रॉक्सी की Facility Provide करती है। Proxy Website को Use करने का ये बहुत ही आसान तरीका है जहाँ पर आप Easily इसको Use कर सकते है।

इसमें आपको सिर्फ एक Textbox में उस Website का Address डालना है जहाँ पर आप Visit करने वाले हो।

Use Web Based Proxy

Use Web Browser

इस Method को Use करने के लिए सबसे पहले आपको अपने IP Address और Port Number की जनकारी होनी चाहिए प्रॉक्सी सर्वर से कनेक्ट करने के लिए। तो इसके बारे में आप Google पर जाके Search कर सकते है।

Google Chrome में proxy कैसे use करते है?

  • सबसे पहले आपको settings में जाना है।
  • फिर “Advanced” पर क्लिक करें
  • नीचे स्क्रॉल करें और “System” वाले section में जाएँ
  • “Open proxy settings” पर click करें
  • “LAN Settings” के button को Press करे
  • “Use a proxy server for your LAN” के checkbox को enable कर ले।
  • Address में proxy का IP address और port वाले बॉक्स में port number Fill करे
  • Save करके Apply करें
  • अब आप Google Chrome में anonymous browsing कर सकते हैं

Conclusion

इस पोस्ट में हमने आपको बताया है कि Proxy Server क्या है ? और साथ ही Proxy Server के Types और उसे कैसे Use किया जाता है ? ये कैसे काम करता है ? हमें उम्मीद है Proxy Server से जुडी जानकारी मिल गयी होगी, अगर आपको Proxy Server को लेकर किसी भी तरह के कोई भी Question है तो आप हमें नीचे Comment कर पूछ सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here