Flutter Kya Hai? | What is Flutter in Hindi | पूरी जानकारी 2021

0
235
flutter kya hai
flutter kya hai

Flutter Kya Hai? | What is Flutter in Hindi | पूरी जानकारी 2021 : – Hello Friends आज के इस Article में हम जानेंगे Flutter के बारे में हो सकता है आपके लिए ये एक नया Word हो और हो सकता आपको इसके बारे में पता भी हो। लेकिन आज इस Article में हम आपको इसकी पूरी जानकारी देने वाले है।

आज हम आपको बताने वाले है की Flutter क्या है ? Flutter को कहाँ Use किया जाता है ? Flutter से क्या बनाया जाता है ?

ये बात आप भी अच्छे से जानते होंगे की की Mobile Devices का Scope आज कल बहुत बढ़ सा गया है। Google Play Store पर हर दिन कोई न कोई नया App Launch होता ही रहता है।

Flutter

App Developer जो App Launch करते है वो उसको ये ध्यान में रख के बनाते की वो Android और iOS दोनों में Run हो सके। जैसा की आपको पता होगा की अभी हमारे पास दो Operating System है , एक Android और दूसरा iOS है।

Android Apps को ज्यादातर JAVA या Kotlin को Use करके बनाया जाता है , और iOS Apps को Swift या Objective C प्रोग्रामिंग language को Use करके बनाया जाता है। इस तरह से अगर हम Android और iOS दोनो प्लेटफॉर्म के लिए App बना रहे है तो दो बार कोड लिखना पड़ता है। एक बार Android के लिए और फिर एक बार iOS के लिए।

इस Problem का जो Solution है वो है Flutter , Flutter में आपको बस एक बार Code लिखना होता है और उसको आप Android और iOS दोनों में Run करा सकते है। तो चलिए जानते है Flutter Kya Hai?

flutter

Flutter क्या है? – What is Flutter in Hindi

Flutter एक UI toolkit है जिसको Use करके आप एक Code से Mobile, Web, Desktop के Application को Easily Beautifully और Fast बना सकते है। ये बिल्कुल Free और एक Open Source है। Flutter Mainly एक Mobile App Development Framework है।

Flutter Mainly एक Mobile App Development Framework होता है। जिसे Google कंपनी द्वारा Develop किया गया है। ये Cross Platform को भी Support करता है। Flutter को सबसे पहले मई 2017 में लाया गया था। ये एक Mobile App Development के लिए Software Development Kit है।

Cross-Platform development tool का मतलब होता है की इसकी Help से आप सिर्फ एक Code से ही हर platform, यानि की Android, IOS, Web, Desktop इन सब पर काम करने वाली application बना सकते है। ये developers के काम को थोड़ा Easy कर देता है।

flutter

Flutter कैसे सीखें – How to learn Flutter in Hindi

Flutter को सीखना बिलकुल भी मुश्किल नहीं है ये सिखने में बहुत ही आसान है, और इससे आप बहुत Easily Applications को बना सकते है। तो चलिए जानते है की इसको हम कहाँ से सिख सकते है।

आप चाहे तो आप इसे फ्री में भी सकते है और पैसे लगा कर भी इसको सीखा जा सकता है। अगर फ्री में सिखने की बात की जाये तो आप इसे Youtube पर बिलकुल फ्री में सिख सकते है। आपको यहॉं पर बहुत सारे Tutorials मिल जायेंगे जिनको देखकर आप इसे Easily सिख सकते है।

इसको सिखने का एक और तरीका है Udemy , ये एक तरह की Website है या आप इसको App भी बोल सकते है। इस Website पर Mostly इस तरह के Courses Available रहते है। आप यहाँ से इनका Paid Course भी Try कर सकते है , उससे फायदा ये होगा की आपको यहाँ से एक Course का Certificate भी मिल जायेगा।

flutter kya hai

Flutter को सिखने का एक और सबसे अच्छा तरीका जो है , वो है Flutter की खुद की Official Documentation यानि की इसकी खुद की Official Website flutter.dev , यहाँ से आप इसकी Documentation को पढ़कर Flutter को आसानी से सिख सकते है।

Flutter कहाँ यूज़ किया जाता है – Flutter kaha use kiya jata hai

Flutter को ज्यादातर Android और iOS Apps Build करने के लिए किया जाता है। जैसा की आप जानते है की ये क्रॉस प्लेटफॉर्म फ्रेमवर्क है इसमें आप एक Codebase से दोनों के लिए App बना सकते है एक एंड्राइड और दूसरा iOS के लिए।

Flutter के Features – Features of Flutter in Hindi

  • Open Source : जैसा की आप जान चुके है Flutter एक free और Open Source Framework है।
  • Hot Reload : इसका मतलब होता है की जब भी किसी Application में कुछ Changes किये जाते है तो उसका Result तभी Show हो जाता है। इस बहुत ही अच्छा Feature है और developers की भी काफी Help हो जाती है bug को fix करने में।
  • Cross-Platform : ये Feature कुछ इस तरह Help करता है की हमको बार बार अलग अलग Code नहीं लिखना पड़ता , एक Code को ही mobile, web, desktop जैसे Applications के लिए Use किया जा सकता है।
  • Minimal Code : Flutter app को Dart Programming से Create किया जाता है ,जिसमे की JIT और AOT Compilation Feature का Use किया जाता है Performance Time को Increase करने के लिए और startup time, functioning को Improve करने के लिए।
  • Widgets  :Flutter Framework में Widgets भी एक Feature है जिसकी Help से Customizable Design बनाये जा सकते है। इसमें दो तरह के Flutter होते है एक Material Widgets और दूसरा Cupertino Widgets. ये दोनों सारे Platform के लिए Glitch Free Applications बनाने में Help करते है।

Flutter के Advantage – Advantage of Flutter in Hindi

  • ये Cross Platform है और इसका Development Process का Fast होना MVP (Minimum Viable Product) Apps को बनाने में बहुत Help करता है।
  • ये React Framework जैसा ही है इसमें भी UI Content को Manually Change करने की जरुरत नही पड़ती है।
  • Flutter में बहुत ही बढ़िया बढ़िया Features है जिसकी वजह से इसके बने User Interface बहुत ही बढ़िया होते है। जैसे की design-centric widget, high-development tool, advance APIs और बहुत सारे Features है।
  • Flutter में Application को बहुत जल्दी बनाया जा सकता है। ये अपने Hot-reload Features की Help से App Development के Process को बहुत Fast कर देता है।
  • Flutter में बनाये गए application बहुत ही Smooth Work करते है , और बिना Hang हुए चलते है।

Flutter के Disadvantage – Disadvantage of Flutter in Hindi

  • इसमें Use होने वाला SDK library Limited है , इसका मतलब ये होता है की developers अभी बहुत कम functionalities का Use करते है।
  • developers को एक नई Language और Technology को सीखना पड़ता है क्योंकि Flutter, Dart programming को Use करके application बनाता है।
  • ये अभी नया है इसलिए अभी इसमें support की थोड़ी कमी है ,पर उस पर भी अभी काम चल रहा है।

Flutter में बने कुछ Apps – App made with Flutter

  • Google Ads
  • Alibaba
  • Reflectly
  • Birch Finance
  • Hookle

Conclusion

इस Tutorial में, हमने आपको बताया है Flutter क्या है? किसलिए Use किया जाता है ? इसके क्या Features है जिसकी वजह से इतनी Popular है। उम्मीद है यह लेख आपके लिए Helpful रहा होगा । अगर आपको मन में Flutter से Related किसी भी तरह के कोई भी Question है तो आप हमें नीचे Comment कर पूछ सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here