CSS Kya Hai ? | What is CSS in Hindi | CSS का उपयोग कैसे किया जाता है ?

0
239
CSS KYA HAI
CSS KYA HAI

नमस्कार दोस्तो इस लेख में हम जानेंगे CSS kya hai और CSS का use क्यों और कैसे किया जाता है। अगर आप HTML सीख चुके है और website का एक basic structure तैयार कर लेते है। तो अब समय आ चुका है की आप CSS भी सिख ले , ये article आपके लिए बहुत usefull होने वाला है |

CSS को सिखने से पहले आपने html तो जरूर सीखा होगा अगर आपने html नहीं सीखा तो इस article को जरूर पढ़े | जब तक आप html पुरे सही ढंग से नहीं सिख जाते तब तक css न पढ़े , पहले html सीखें |

CSS क्या है ?

CSS kya hai : CSS वह भाषा है जिसका उपयोग हम HTML डॉक्यूमेंट को स्टाइल करने के लिए करते हैं। CSS बताता है कि HTML Elements को कैसे प्रदर्शित किया जाना चाहिए। CSS बताता है कि HTML Elements को स्क्रीन, पेपर या अन्य मीडिया में कैसे प्रदर्शित किया जाना है, CSS बहुत काम बचाता है। यह एक साथ कई वेब पेजों के लेआउट को नियंत्रित कर सकता है ।

CSS की Full Form होती है Cascading Style Sheet . CSS एक simple language है , जिसको बहुत आसानी से सीखा जा सकता है | CSS की help से हम अपने HTML पेज को Style कर सकते है | html का use करके हम सिर्फ एक webpage का structure ready कर पाते है | CSS का Use करके कर हम web pages के color, font का style, paragraph को एक बेहतर ढंग से दिखा पाते हैं । कहने का मतलब ये है की , CSS एक web page के design को Attractive बना देती है।

CSS का Use करके कर हम web pages के Text और Content को एक बेहतर ढंग से दिखा सकते हैं । CSS की help से हम webpage के content के बिच की spacing को proper तरीक़े से adjust कर सकते है | CSS का invention 10 अक्टूबर 1994 को Håkon Wium Lie ने किया था ।

CSS Syntax

एक CSS rule-set में Selector और Declaration Block होता है

css syntax
  • Selector उस HTML Elements को Points करता है जिसे आप Style करना चाहते हैं।
  • हर Declaration में एक CSS Property का Name और एक Value शामिल होता है, जो एक Colon द्वारा अलग किया जाता है।
  • Multiple CSS declarations को semicolons द्वारा अलग किया जाता है, declaration blocks curly braces से घिरे हैं।

Example :

इस उदाहरण में सभी <h1> elements center-aligned होंगे, with a red text color :

h1 {
  color: red;
  text-align: center;
}

Example Explained :

  • h1 CSS में Selector है ( यह उस HTML Elements को Point करता है जिसे आप Style करना चाहते हैं: <p>।
  • color एक property है, and red property की value है |
  • text-align एक property है, and center property की value है |

Types of CSS

  • Inline Style Sheet
  • Embedded or Internal style sheet
  • External Style Sheet

Inline Style Sheet

इस Style Sheet की help से हम inline style को web pages में वही पर इस्तेमाल किया जाता है जहाँ जहाँ पर इसकी जरूरत होती है। inline style sheet का use आप किसी particular html element को style करने के लिए use कर सकते है। Inline css आपको right देती है किसी भी एक element को style या उसमें किसी changes करने की। इसका Advantage यह है, कि जब हम किसी एक element को change करते है, तो इससे बाकी दूसरे elements में कोई change नही होता है।

Embedded or Internal style sheet

इस style sheet का use html pages के top (head section) में किया जाता है। Internal style sheet को element के अंदर रखा जाता है। इस type की style sheet का rule पेज के सभी elements पर काम करता है। जब हम style element use करते है, तो इसके साथ type attribute भी use होता है । यहां type attribute specify करता है कि document में किस प्रकार की style को शामिल किया जाये।

External Style Sheet

ये CSS में सबसे Interesting and Useful Style Sheet है। इसमें हम एक separate file में CSS coding करते है उसे “.css extension” के साथ save कर लेते है। उसके बाद कभी भी हम जब element की मदद से CSS file को html file से link करते है तो पूरी html file पर इस css file का effect होता है। ऐसा इसलिए किया जाता है जब कभी भी आप किसी website के design को एक – एक करके changes करते है ,तो इससे क्या होता है की सिर्फ एक CSS file Change करने से एक ही बार मे ही सारे changes हो जाते है ।

CSS के फायदे – Benefits

  • Page के load time को कम करता है : CSS को use करने का यह एक सबसे बड़ा फायदा ये है की, CSS से एक Html pages को Design करने में बहुत ही कम codes की जरूरत पड़ती है। एक web page में कम codes को use करने का मतलब है, कि वह जल्दी load होगा।
  • Easily Maintain : CSS के through आप किसी भी document और web page को easily maintain कर सकते है। सीएसएस file में सिर्फ एक change बदलाव से आप उस document और web page के कई pages को easily update कर सकते है।

आपने क्या जाना ?

इस लेख के जरिये आपने जाना कि CSS क्या है कितने types की होती है , css syntax व CSS का उपयोग क्यों किया जाता है। साथ ही साथ हमने कुछ और related topic जैसे के के प्रकार, सीएसएस के फायदे भी जाने । उम्मीद है यह लेख आपके लिए helpful रहा होगा । किसी भी तरह के कोई भी question के लिए आप हमें नीचे comment कर पूछ सकते है। .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here